Bijli ka avishkar kisne kiya

Bijli ka avishkar kisne kiya | बिजली का आविष्कार किसने किया ?

क्या आपको पता है बिजली का आविष्कार किसने किया ( Bijli ka avishkar kisne kiya ) है. अगर नहीं पता है तो आप सही जगह पर आए हैं आज हम बात करेंगे बिजली का आविष्कार किसने किया है.

मुहर्रम बिजली से जुड़ी कई सारे विषय पर चर्चा करने वाले हैं बिजली क्या है, बिजली का इतिहास क्या है, बिजली का उत्पादन और बिजली की वजह से हमारे जीवन पर क्या प्रभाव और बदलाव आया है, यह सारी बातें आज हम इस लेख में जानेंगे.

बिजली क्या है 

दोस्तों बिजली आज की दुनिया में आपके भागदौड़ भरी जिंदगी में क्या अहमियत है यह आपको पता ही होगा. बिजली अगर ना हो तो लगभग आपके सारे काम रुक जाते हैं. बिजली मनुष्य के जीवन का एक ऐसा आविष्कार है  जिसे दुनिया कभी भुला नहीं पाएगी. आजकल बिजली हमारे जीवन का  महत्वपूर्ण  हिस्सा बना है.

दोस्तों बिजली का उत्पादन कई प्रकार से किया जाता है. उनमे से  एक महत्वपूर्ण तरीका है पानी से बिजली बनाना. जी हां दोस्तों पानी से बिजली की उत्पत्ति की जाती है.  

आपने अगर देखा होगा तो कई जगहों पर बड़े-बड़े डैम बने हुए हैं  इनका इस्तेमाल करके पानी  किसी भी दिशा में छोड़ा जा सकता है और पानी को डैम के सहारे बिजली का उत्पादन भी किया जाता है.

बिजली को तैयार करने के लिए डैम के नीचे बड़े  टरबाइन लगाया जाता है और पानी को उस टरबाइन के पास छोड़ा जाता है पानी को टरबाइन में छोड़ते ही टरबाइन घूमने लगता है.

टरबाइन के घूमते ही जनरेटर को बिजली पहुंचती है उस बिजली  को तार के सहारे  ट्रांसफार्मर में भेजा जाता है. इस प्रकार पानी से बिजली बनाई जाती है.

दोस्तों वैसे तो बिजली  हवा  से ( wind energy) ,  solar से (solar energy) ,  कोयले से भी  बनाई जाती है. इन सारे विषयों पर आपको दूसरे लेख में विस्तार से बताएंगे. 

Bijli ka avishkar kisne kiya | बिजली का आविष्कार किसने किया ?

दोस्तों बिजली मतलब एनर्जी (energy), एनर्जी मतलब  ऊर्जा,  और दोस्तों प्रकृति में ऊर्जा तो पहले से ही मौजूद है इसलिए हमें बिजली का अविष्कार के बजाएं बिजली का खोज कहना उचित होगा.

दोस्तों  बिजली  को यूनानी दार्शनिक और भौतिक विज्ञानी Thales of Miletus (थेल्स) द्वारा खोजा गया. 

लेकिन अमेरिका के बेंजामिन फ्रैंकलीन  ने 1752 मैं एक बहुत ही खतरनाक परीक्षण के दौरान पाया कि जो आकाश में जो प्रकाश दिखाई देता है वह बिजली का ही एक रूप है.

Thales की खोज के 2000 वर्ष बाद इटालियन वैज्ञानिक ऐलेसाल्ड्रो वोल्टा (Alessandro Volta) ने एक ऐसा उपकरण  बनाया जिसे  बैटरी कहते हैं. Volta ने  ही बैटरी का आविष्कार किया जिसके द्वारा हल्की सी विद्युत उत्पन्न होती थी. 

इसके बाद बिजली के क्षेत्र में कई पर प्रकार के आविष्कार हुए. 1878 मे थॉमस एडिसन ने बल्ब का आविष्कार किया।  

अमेरिका के बेंजामिन फ्रैंकलीन  ने 1752 मैं एक बहुत ही खतरनाक परीक्षण के दौरान पाया कि जो आकाश में प्रकाश दिखाई देता है वह बिजली का ही एक रूप है. आज भी बिजली की खोज का श्रेय बेंजामिन फ्रैंकलीन ( Benjamin Franklin ) को दिया जाता है.

दोस्तों बिजली का आविष्कार किसने किया के बारे में इस लेख में आपको अच्छे से समझाने का प्रयास किया है इस लेख में कई  वैज्ञानिकों का नाम भी उल्लेख किया गया है क्योंकि बहुत सारे बिजली से जुड़े  अविष्कार कई चरणों में हुआ है. कई सालों व आविष्कार के दौरान अंतिम चरण में बिजली का आविष्कार हुआ.

दोस्तों इस लेख में दी गई जानकारी अगर आपको अच्छी लगी हो तो आप इस लेख को अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी बिजली का आविष्कार किसने किया के बारे में पता चले.  इस लेख से  संबंधित कोई भी प्रश्न आपको अगर पूछना है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं धन्यवाद

इसे भी पढ़े :-

बिजली कैसे बनती है

Check Also

Sapne me ghar bante dekhna

Sapne me ghar bante dekhna | sapne me ghar bante dekhne ka matlab |सपने में घर बनते देखना |

Sapne me ghar bante dekhna | sapne me ghar dekhna | सपने में घर बनते …

Leave a Reply

Your email address will not be published.